February 17, 2020
  • February 17, 2020
Breaking News
  • Home
  • आम मुद्दे
  • प्रथम जर्मन श्रुतिलेख प्रतियोगिता के अंतिम चरण का संचालन व सफल समापन |

प्रथम जर्मन श्रुतिलेख प्रतियोगिता के अंतिम चरण का संचालन व सफल समापन |

By on October 13, 2018 0 492 Views

प्रथम जर्मन श्रुतिलेख प्रतियोगिता के अंतिम चरण का संचालन व सफल समापन जर्मन भाषा केन्द्र के द्वारा ट्रिनिटी ग्लोबल स्कूल में किया गया। इस प्रतियोगिता में कुल 13 विद्यालयों के लगभग 200 छात्र – छात्राओं ने भाग लिया। प्रतियोगिता में भाग लेने वाले विद्यालयों में केन्द्रीय विद्यालय बेली रोड, केन्द्रीय विद्यालय दानापुर व केन्द्रीय विद्यालय कंकडबाग की दोनों पालियों केन्द्रीय विद्यालय खगौल, लिट्रा वैली स्कूल, माउण्ट लिट्रा जी स्कूल, राजा इन्टरनेशनल बालिका विद्यालय, संत राजा बालक स्कूल और ट्रिनिटी ग्लोबल स्कूल में भाग लेने वाले छात्रों का चयन कुल 1090 प्रतिभागियों से जिन्होंने 13 अगस्त को प्रतियोगिता के लिखित चरण में भाग लिया था। इस प्रतियोगिता का आयोजन गोय्थ इन्स्ट्रीच्यूट कोलकाता के सहभाग से किया गया। गोय्थ इन्ट्रीच्यूट की श्रीमति आलिवेलु दुर्वा ने प्रमुख स्पेल मास्टर की भूमिका निभाई और श्रीमति प्रिया प्रमेश्वरम् प्रमुख अतिथि के रूप में उपस्थित थी। अपने स्वागत भाषाण में जी एल सी के निदेशक श्रीमति अर्चना रानी ने इस प्रतियोगिता की विशेषताओं की ओर ध्यान दिलाने के साथ-साथ ट्रिनिटी ग्लोबल स्कूल और गोय्थ इन्स्ट्रीच्यूट कोलकाता के प्रति आभार व्यक्त किया।
अंत में पाँच पुस्तकों के आधार पर बने पाँच अलग – अलग वर्गो के पाँच विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। वर्गो के अनुसार विजेताओं के नाम इस प्रकार हैं-
1 दोयच् उन्ड इच में विजेता 1.मानस राज, लिटेरा वैली स्कूल 2.अभिज्ञान भार्गव, ट्रिनिटी ग्लोबल स्कूल
2 हालो दोयच् एक में विजेता श्रीनिवास पटेल, केंद्रीय विद्यालय बेली रोड दूसरी शिफ्ट
3 हालो दोयच् दो में विजेता श्रुतिपर्ण बासक, केंद्रीय विद्यालय बेली रोड प्रथम शिफ्ट
4 हालो दोयच् तीन में विजेता हिताक्षी निलयम, लिटेरा वैली स्कूल
5. वियर तीन में विजेता मुस्कान सोमानी, लिटेरा वैली स्कूल
इन सभी विजेताओं को भारतीय जर्मन कैम्प में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा।
स्पेल बी विजेता अभिज्ञान भार्गव, ट्रिनिटी ग्लोबल स्कूल को अन्तराष्ट्रीय जर्मन कैम्प में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा ।

Leave a comment